Types of Friends

 

Types of friends:

दोस्तो के प्रकार

(Doston ke prakar.)

types of friends

 

  • Casual friends:

ऐसे दोस्त जिनसे मिलना जुलना होता रहता है लेकिन हम उनके साथ हर बात शेयर नहीं करते

(Aise dost jisse milna julna hota rhta hai lekin hum unke saath har baat share nhi krte.)

 

  • Close friends:

ऐसे दोस्त जो हमारी जिंदगी के बारे में सब कुछ जानते हैं और हम उनके साथ हर छोटी से छोटी बात भी शेयर करते हैं

(Aise dost jo humari zindagi ke baare m sab kuch jante hai or hum unke saath har choti se choti baat share krte hai.)

 

  • Family friends:

वे दोस्त जो हमे अपने माता पिता या फैमिली में किसीअन्य सदस्य की वजह से जानते हैं ये आम तौर पर हमारे परेंट्स के दोस्तों के बच्चे होते हैं

(Vah dost jo humain apne mata pita ya family m kisi anya sadsya ki Wajah se jante hai ye aam tor par humare parents ke dosto ke bache hote hai.)

 

  • Childhood friends:

जो आपके साथ ही पले बढ़े हैं यानी बचपन वाले यार दोस्तों को चाइल्डहुड फ्रेंड्स कहते हैं

(Jo aapke saath hi ple bde hai yaani bachpan wale yaar dosto ko childhood friends kahte hai.)

 

  •   Classmate:

जिन दोस्तों के साथ आपने एक ही कक्षा में बैठकर पढ़ाई की है उनको क्लासमेट कहते हैं

(Jin dosto ke saath aapne ek hi class m beth kr padhai ki hai unko classmate kahte hai.)

 

  • Roommate:

जिन लोगो के साथ आप एक ही कमरे में रहते हैं

उनको रुममेट कहते हैं

(Jin logo ke saath aap ek hi kamre m rhte hai unko roommate kahte hai.)

 

  •  Colleague:

जो लोग आपके व्यवसाय से जुड़े हैं यानी आपके साथ

एक ही ऑफिस में काम करते हैं उनको कॉलीग कहते हैं

(Jo log aapke vavsaya se jude hai yaani aapke saath ek hi office me kaam krte hai unko colleague kahte hai.)

 

Comments

You are welcome to share your ideas with us in comments

Archive

Contact form

Send